सिपाही के हत्यारे को 6साल का कारावास,7 गवाहों के आधार पर हुई कार्यवाही।

दिनेश चंद्र,नैनीताल।

2018 में अपनी शादी को छुट्टी पर आए आर्मी के जवान की दस दिन बाद एक विवाह समारोह में हुई हत्या के मामले में जिला एवं सत्र न्यायाधीश राजीव कुमार खुल्बे की न्यायालय में सुनवाई हुई। इसमें न्यायालय ने आरोपी गोपाल सिंह को 6 वर्ष के कारावास की सजा सुनाई। आरोप सिद्ध करने को डीजीसी सुशील कुमार शर्मा की ओर से 7 गवाह पेश किए गए।

आपको बता दें कि कुमाऊं रेजीमेंट का जवान जगत सिंह पुत्र खीम सिंह ग्राम निवासी मज्यूली तोक जोलपोखरा नैनीताल अप्रैल 2018 में अपनी शादी के सिलसिले में घर आया हुआ था। इसके 10 दिन बाद 7 मई 2018 को वह गांव में हो रही रेवाधर मेलकानी के पुत्र महेश की शादी समारोह में आयोजित प्रीति भोज में गया था। इस दौरान क्षेत्र के ही गोपाल सिंह पुत्र पूरन सिंह के साथ विवाद हो गया। आरोप है कि आर्मी जवान के घर जाते समय आरोपी गोपाल ने उसके साथ मारपीट की। इस दौरान जवान के गुप्तांग में चोट लगने से उसकी मौत हो गई थी। परिजनों की तहरीर पर चौभेसी के पट्टी पटवारी प्रेम प्रकाश ने आईपीसी के तहत रिपोर्ट दर्ज की। 9 मई को आरोपी को गिरफ्तार किया गया। दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाज जिला जज ने मंगलवार को आरोपी को 6 वर्ष के सश्रम कारावास की सजा सुनाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.