उत्तराखंड की लोक संस्कृति को बचाने और बढ़ावा देने के लिए लेक सिटी का प्रयाश।

उत्तराखंड की लोक संस्कृति को बढ़ावा देने के उद्देश्य से लेक वेलफेयर क्लब की ओर से रविवार को ’’हमारी संस्कृति हमारी पहचान’’ कार्यक्रम का आयोजन शैले हाॅल में किया गया, कार्यक्रम का शुभारंभ नैनीताल के डीएम सविन बंसल, अध्यक्ष जिला पंचायत श्रीमती बेला तोलिया, विधायक श्री संजीव आर्य ने संयुक्त रूप से किया, इस दौरान छौलिया कलाकारों द्वारा विशिष्ट जनों का स्वागत किया गया, वहीं महिलाओं ने सगुन आखर गाकर कुमाऊॅनी संस्कृति से लोगो को रूबरू कराया।
कार्ययक्र में पहुची अध्यक्ष जिला पंचायत बेला तोलिया ने कहा कि हमारी कुमाऊॅ संस्कृति सीधे हमें ईश्वर से जोड़ती है, कुमाऊॅ संस्कृति एवं यहाॅ के तीज़-त्यौहार, गीत व संगीत हमारी पहचान हैं, विधायक संजीव आर्य ने कहा कि कुमाऊॅनी संस्कृति में आलौकिक आनन्द है जोकि हमें ईश्वर से जोड़ता है, वही जिलाधिकारी सविन बंसल ने कहा कि पर्वतीय संस्कृति विशेषकर कुमाऊॅनी संस्कृति के तहत बनाये जाने वाले ऐपण काफी सुन्दर एवं आकर्षक होते हैं। इनको देखने मात्र से ही हमें सुख एवं आनन्द की अनुभूति होती है। कुमाऊॅ के छोलिया, वाद्य यंत्र, गीत-संगीत को देश विदेश में सुना एवं सराहा जाता है। उन्होंने कार्यक्रम के आयोजकों को शुभकामनाए दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.