बागेश्वर पुलिस को मिली बड़ी सफलता,

पैंसे दुगना करने के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह के दो अभियुक्त इन्दौर मध्यप्रदेश से किये गिरफ्तार किया,, गरुड़ निवासी दीप वर्मा पुत्र श्री ईश्वरी लाल वर्मा ने ट्रेड प्राईम रिसर्च कन्सलटैन्ट कम्पनी पर लगाया था आरोप, ऑनलाइन शेयर मार्केट में पैंसा लगाकर दुगना फायदा पहुंचाने का दिया था लालच, एक लाख तेईस हजार सात सौ रूपये की धोखाधड़ी का आरोप, पुलिस ने सक्रियता से की कार्यवाही।

कप्तान ने बनाई रणनीति, टीम को सौपी जिम्मेदारी।


टीम ने 10 दिन में संजय विजय वर्गीय, अश्विन निवासी इन्दौर, मध्य प्रदेश को किया गिरफ्तार, अभियुक्त अश्विन एम0बी0ए0 की डिग्री धारक है। जिसके द्वारा ट्रेड प्राईम रिसर्च कन्सलटैन्ट कम्पनी से काम छोड़ने के बाद अपने सहयोगी के साथ मिलकर ट्रेड प्राईम रिसर्च कन्सलटैन्ट कम्पनी के नाम पर फर्जी कम्पनी बनाकर लोगों से फोन के माध्यम से सम्पर्क कर उनको आॅनलाईन शेयर माकेर्ट में पैंसा लगाकर दुगना फायदा पहुंचाने के बारे में बाताया जाता था। इससे जो व्यक्ति इनके झांसे में आ जाते थे, उनसे पैंसा अपने खातों(अकाउन्ट) में डलवा लेते थे। धोखाधड़ी करने के बाद ये फोन नम्बर व खातों को बन्द कर देते थे। ये लोग इसी प्रकार लोगों से अलग-अलग मोबाईल फोनों से सम्पर्क कर अपना असली नाम न बताकर अलग-अलग नाम बताकर लोगों से धोखाधड़ी करते थे।
टीम में
1- थानाध्यक्ष श्री कैलाश सिंह बिष्ट (थाना बैजनाथ)।
2-उ0नि0 ना0पु0 अविनाश मौर्य (थाना बैजनाथ)।
3- का0 ना0पु0 गणेश राम (थाना बैजनाथ)।
4- का0 ना0पु0 कमल चन्द्र (थाना बैजनाथ)।
5- का0 ना0पु0 हेमचन्द्र मठपाल (एस0ओ0जी0/साईबर सैल)।

कप्तान सहित पूरी टीम को बधाई,,

दरसल कुछ लोग अधिक लालच में गलत जगह अपने पैसे इन्वेस्ट करते हैं। लाभ हुआ तो चुपचाप रहे लेकिन जब किसी कारण से नुकसान हुआ तो प्रशासन से लेकर प्रधानमंत्री तक को गलियाने लगते हैं। पिछले कुछ समय से ऐसे मामलों में तेजी आयी है। शिकायत मिलने पर प्रशासन ने त्वरित कार्यवाही की है, ये एक सराहनीय कार्य है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.