नोएडा की महिला पर्यटक की नैनीताल में हत्या, मौत के पीछे लव जिहाद कनेशन।

नैनीताल में 15 अगस्त को नोएडा की रात महिला पर्यटक दीक्षा की हुई हत्या के बाद आज नैनीताल पुलिस के द्वारा महिला के शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम करवा कर महिला के शव को परिजनों को सौंप दिया नोएडा से नैनीताल पहुंचे महिला के परिजनों ने आरोपी ऋषभ उर्फ इमरान पर आरोप लगाया कि इमरान दीक्षा से ऋषभ तिवारी बन कर मिला था और उसको अपने प्रेम जाल में फसकर उसकी हत्या कर दी सोमवार को मृतका दीक्षा को मौत की खबर मिलते ही मंगलवार की सुबह मृतका दीक्षा की माँ बीना मिश्रा, भाई अंकुर मिश्रा व दोस्त सीमा, कशिश व रिश्तेदार राजेश देर रात नैनीताल पहुचे इस दौरान मृतका दीक्षा की मां ने बताया कि उनकी बेटी का हत्यारोपी ऋषभ उर्फ इमरान करीब 2 साल पहले उनकी बेटी से ऋषभ तिवारी बन कर मिला उस समय किसी को यह नहीं पता था कि ऋषभ असल में इमरान है अगर उनको पहले पता चलता कि ऋषभ असल में इमरान है तो उसके साथ अपनी बेटी को कभी नहीं जाने देती और आज उनकी बेटी उनके बीच होती…
दीक्षा के परिजनों ने कहा कि इमरान को सभी ऋषभ तिवारी नाम से जानते थे। कहा कि लव जिहाद के चलते इमरान ने दीक्षा की हत्या कर दी…..इटावा सिविल लाइन निवासी दीक्षा की मां बीना मिश्रा व भाई अंकुर मिश्रा ने बताया कि दीक्षा नोएडा में एक फ्लैट में रहती थी। और इमरान को ब्राह्मण समझेते थे। युवक ने अपना नाम हमेशा ऋषभ तिवारी बताया। अगर पता होता कि लड़का मुस्लिम है तो लड़के से मिलने से मना कर देते। वहीं नोएडा से नैनीताल पहुंची मृतका दीक्षा मिश्रा की दोस्त सीमा व कशिश ने बताया कि दीक्षा बहुत मजबूत थी उसे कोई आसानी से नहीं मार सकता। उन्होंने बताया कि वह भारती को कई सालों से जानते हैं। लेकिन बीते कुछ महीनों से लड़के को वह ऋषभ तिवारी के नाम से जानते हैं। बताया कि उन्हें दीक्षा की मौत के बाद पूछताछ में किसी युवक से पता चला कि लड़का हिन्दू नहीं मुश्लिम है। और उसका नाम ऋषभ  तिवारी नहीं इमरान है। उन्होंने बताया कि फरार युवक की फेसबुक में भी ऋषभ तिवारी नाम से आई डी है। उन्होंने भी मामले को लव जिहाद का बाताया है।
दीक्षा की माँ ने बताया कि उनकी बेटी की शादी 2008 में गाजियाबाद निवासी पवन शर्मा के साथ हो गया।था। पवन शर्मा की शराब पीने की आदत व काम न करने से वह परेशान हो गई थी। जिसके बाद 2012 में पति से अलग रहना शुरु कर दिया। और कुछ समय पहले दोनों का तलाख भी हो चुका था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.