नैनीताल में दुनिया का सबसे सुंदर गोल्फ कोर्स,पर्यटक पहुच रहे राजभवन और गोल्फ देखने।

Golf

आज से नैनीताल राजभवन में 17वां गवर्नर गोल्फ कप टूर्नामेंट आज से शुरू हो गया है,,, जिसका प्रदेश की  राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने आज टी आॅफ कर विधिवत शुभारंभ किया,,, नैनीताल के राजभवन में 24 मई से 26 मई तक चलने वाले इन गोल्फ टूर्नामेंट में देशभर के 115 गोल्फर प्रतिभाग कर रहे है,, नैनीताल गोल्फ कोर्स में खेले जानी वाले टूर्नामेंट का मकसद गोल्फ को बढ़ावा देना है,,, ताकि नई पीढ़ी गोल्फ के प्रति आर्कषित हो सके,,, इस प्रतियोगिता में 99 साल के गोल्फर आकर्षण का केंद्र बने हुए है,,, राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने आज टी आॅफ कर गोल्फ कप का विधिवत शुभारंभ किया,,, प्रतियोगित जूनियर, सीनियर, महिला और सुपर सीनियर वर्ग में खेली जाएगी,, नैनीताल में के राजभवन में मौजूद गोल्फ कोर्स की विशेष खासियत रही है। यह गोल्फ कोर्स देश के अन्य गोल्फ कोर्सों के मुकाबले बेहद अलग है। जहां दूसरे गोल्फ कोर्स खुले मैदान की तरह होते हैं वहीं नैनीताल राजभवन का गोल्फ कोर्स ऐसा नहीं है। यहां घने जंगलों के बीच पूरा गोल्फ कोर्स नजर नहीं आता। चारों ओर घने जंगल हैं और गोल्फ कोर्स के मैदान भी सीढ़ीदार स्थिति में मौजूद हैं लिहाज यहां खेलना गोल्फर के लिये बेहद चुनौती भरा रहता है। गोल्फर मानते है कि नैनीताल का गोल्फ कोर्स देश का सबसे अलग है गोल्फ कोर्स है और यहा खेलना दिलचस्प है क्यो की यहा गोल्फ कोर्स में होल दिखते नहीं हैं और पेड़ों के बड़ते आकार के कारण बॉल को सीधे होल तक पहुँचाना बहुत मुश्किल है,,, नैनीताल का ये गोल्फ कोर्स 45 एकड़ में बना है और इसमे 18 होल्स है,,, गोल्फ कोर्स में प्रत्येक प्रतिभागी को लगभग 4 किलोमीटर ऊपर नीचे चलना पड़ता है जो उनके फिटनेस का भी प्रमाण दे देता है,,,
नैनीताल के इस गोल्फ कोर्स मे खेलना बहुत कठीन है क्यो की गोल्फ कोर्स में होल दिखते नहीं हैं और पेड़ों के बड़ते आकार के कारण बॉल को सीधे होल तक पहुँचाना बहुत मुश्किल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.