नैनीताल के जाने माने स्कूल के प्रिंसिपल और उनकी पत्नी की हनक, डीएम से लेकर एसएसपी तक की पहुच की दिखाई हनक, फिर भी हुए क्वॉरेंटाइन।

भले ही आज देश में कोरोना संक्रमण तेजी से पांव पसार रहा है और सरकार इस संक्रमण से निपटने के लिए लाखों कोशिश कर रही है तो वहीं दूसरी तरफ समाज में कुछ गैर जिम्मेदार लोग अभी भी इस संक्रमण से बचने के लिए कोई सबक नहीं ले रहे है ऐसा ही एक मामला आज नैनीताल में उस समय देखने को मिला जब नैनीताल के जाने-माने स्कूल के प्रिंसिपल व उनकी पत्नी अपना उपचार कराने के लिए अस्पताल नहीं पहुंचे ये दंपत्ति बीते रोज ही दिल्ली से नैनीताल लौटा था आज जब प्रशासन के द्वारा इस दंपत्ति को अस्पताल आ कर अपनी जांच कराने के लिए कहा तो इस दंपति ने अपनी पहुंच की पूरी हनक पुलिस और डॉक्टरों को दिखाई,, जब यह दंपत्ति काफी देर तक अस्पताल नहीं पहुंचा तो इस दंपत्ति को लाने के लिए पुलिस खुद स्कूल जाना पड़ा जिसके बाद यह दंपत्ति पुलिस की निगरानी में अस्पताल लाया गया अस्पताल में भी दंपत्ति कभी डीएम और कभी एसएसपी के नाम की हनक पुलिस के जवानों और डॉक्टर को दिखाते रहें और अपने को होम क्वॉरेंटाइन करने की जिद करने लगे, जिसके बाद डॉक्टरों की टीम ने इस दंपत्ति को टीआरसी क्वॉरेंटाइन सेंटर में भेज दिया वहीं डॉक्टरों की टीम के द्वारा इस दंपत्ति के ड्राइवर को भी 14 दिन के लिए होम क्वॉरेंटाइन करने के आदेश दिए हैं।

साथ ही आज नैनीताल के क्वॉरेंटाइन सेंटर से 5 लोगों को डिस्चार्ज कर दिया गया जिसमें से 3 लोग बागेश्वर जबकि 2 लोग नैनीताल के स्थानीय निवासी हैं, यह सभी पांचों लोग अब पूरी तरह से स्वस्थ हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.