गर्भवती ने अस्पताल के बाहर सड़क पर बच्चे को दिया जन्म- बच्चे की मौत, जिम्मेदार अधिकारीयो ने जांच का आस्वासन दे कर झाड़ा पल्ला।

हेमा जोशी,नैनीताल।

राज्य में लचर स्वास्थ्य सेवाओं का नमूना एक बार फिर सामने आया है। एक बार फिर किच्छा में महिला को अस्पताल के बाहर ही बच्चे को जन्म देना पड़ा। प्रसव पीड़ा से परेशान महिला को उसके परिजन किच्छा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर आए थे। अस्पताल प्रशासन को यह बात पता चली तो हड़कंप मच गया आनन-फानन में उसे भर्ती किया गया, आज सुबह आपातकालीन सेवा 108 से एक गर्भवती महिला को शिक्षा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया जहां पर उसे डॉक्टरों द्वारा यह कहकर लौटा दिया कि उसे काला पीलिया है और उसकी डिलीवरी किच्छा के सामुदायिक अस्पताल में नहीं हो सकती है जिसके बाद परिजनों से हल्द्वानी ले ही जा रहे थे कि अस्पताल के बाहर महिला ने बच्चे को जन्म दे दिया जैसे ही अस्पताल मैं यह बात पता चली तो हड़कंप मच गया आनन-फानन में महिला को भर्ती करते हुए इलाज शुरू कर दिया,,,

प्रसव पीड़ा के बाद कला नामक महिला को आज सुबह सरकारी अस्पताल लाया गया था। जहाँ पर उससे काला पीलिया होने के चलते उसे हाई सेंटर ले जाने की बात कही गयी। जैसे ही उसे परिजन अस्पताल से बाहर ले कर सड़क में पहुचे तो उसे अचानक दर्द उठने लगा कुछ देर में उसने बच्चे को सड़क में ही जन्म दे दिया। वही अस्पताल के अधीक्षक हरीश चंद्र त्रिपाठी ने बताया कि मामला अभी अभी संज्ञान में आया है मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं अगर कोई भी दोषी पाया गया तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.