ऋषिकेश डी पी एस स्कूल के मामले में हाई कोर्ट ने हरिद्वार डी एम से मांगी रिपोर्ट

नैनीताल हाईकोर्ट ने ऋृषिकेष रानीपोखरी के डीपीएस स्कुल जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए डी,एम से कहा मानको के अनुरूप स्कुल संचालित किया जा रहा है या नही इसकी जाॅच कर 3 सप्ताह मे रिपोर्ट कोर्ट में पेश करे।

                    आपको बता दे की पर्वतीय पूर्नउत्थान सोसायटी ने हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर कर ऋषिकेश में संचालित हो रहे डी.पी.एस स्कुल में मानको को ताक पर रख कर छात्रो के भविष्य से खिलवाड़ कर रहा है और बिल्डिंग डवलमेंट के नाम पर छात्रो से 10 हजार रूपया वसुला जा रहा है जो नियम विरूद्ध है कोई भी स्कुल डवलपमंेट के नाम से छात्रों से पैसा नही ले सकता है। याचिका में यह भी कहा गया हैं स्कुल संचालन के लिए उत्तराखंड सरकार शिक्षा नियमावली का पालन नहीं किया जा रहा है बावजूद इसके डी.पी.एस. स्कुल संचालित हो रहा है। जबकि 22 फरवरी 2019 में चीफ एज्युकेशन अधिकारी ने साफ तौर पर कहा था कि स्कुल में बच्चों को एडमीशन नही दिया जा सकता। क्योंकि स्कूल मानकों के अनुरूप नहीं चल रहा है। डी.पी.एस स्कुल द्वारा बनाए गए भवनों की भी साडा से संस्तुति नही ली गई है लिहाजा स्कुल भवन को सील किया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.