आर्ट एंड क्राफ्ट

प्रदर्शनी देखते पालिका अध्यक्ष सचिन नेगी।


सरोवर नगरी के डीएसए मैदान पर कार्यालय विकास आयुक्त हस्तशिल्प, वस्त्र मंत्रालय, भारत सरकार के सहयोग से नेहरू युवा मंडल बेवर जिला मैनपुरी उत्तर प्रदेश द्वाराआयोजित नैनीताल क्राफ्ट बाजार में भारी भीड़ उमड़ रही है। क्राफ्ट बाजार में लगी बरेली की बांस एवं बेंत से बने फर्नीचर, सहारनपुर की फर्नीचर एवं भदोही की कालीन की नैनीताल वासियों के बीच भारी भारी मांग है। पश्चिम बंगाल की सिल्क की साड़ियां महिलाओं के बीच स्थान बना रही हैं। स्टॉल नंबर 26 पर लगी पश्चिम बंगाल की ग्रास मैट योगा प्रेमियों व पिकनिक प्रेमियों के बीच लोकप्रिय हो चली है। ग्रास मेट की पर्दे, डाइनिंग टेबल मेट, वॉटर बॉटल होल्डर, सोफा रनर आदि घरेलू उपयोग की वस्तुएं देखकर लोग अचरज में पड़ जाते हैं। मुरादाबाद की पीतल की कारीगरी से बनी पूजा की सामग्री उत्तराखंड वासियों के लिए खासी लोकप्रिय बन गई है। कोलकाता के मुनमुन सेन की जूट बैग की स्टाल पर जूट से बने कैरी बैग बेहतरीन डिजाइन लिए हुए महिलाओं के बीच काफी प्रचलित हैं। वही लोग सहारनपुर के फर्नीचर को हाथों-हाथ ले रहे हैं। बड़ी संख्या में होटल इंडस्ट्री के लोग भी नैनीताल क्राफ्ट बाजार में खरीदारी के लिए आ रहे हैं। मंगलवार को दोपहर नगर पालिका परिषद नैनीताल के अध्यक्ष सचिन नेगी ने नैनीताल क्राफ्ट बाजार का निरीक्षण कर शिल्पियों से उनकी बिक्री की जानकारी ली। इस दौरान नैनीताल क्राफ्ट बाजार की आयोजक संस्था के अध्यक्ष अनुज कुमार ने बताया कि भारत सरकार देशभर में शिल्पियों को विपणन योजना के तहत कार्यालय विकास आयुक्त हस्तशिल्प वस्त्र मंत्रालय के द्वारा आयोजित कर बाजार उपलब्ध कराती है जिससे अपने घरों पर उत्पादन करने वाले शिल्पी सीधे ग्राहकों तक अपना माल बेच कर अपना जीवकोपार्जन कर सकें ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.